Hiroshima Question Answer । Bseb Class 10 Hindi हिरोशिमा

Hiroshima Question Answer Class 10 Hindi Godhuli Kavya khand, हिरोशिमा class 10, bihar board class 10 notes in hindi, हिरोशिमा कविता के प्रश्न उत्तर, Bihar Board Class 10 Hindi हिरोशिमा Text Book Questions, BSEB Class 10 Hindi हिरोशिमा पध Chapter 7 Solution Notes, Hiroshima class 10 Hindi, Hiroshima Subjective Question 10th Class Hindi

Bihar Board Class 10th Hindi Hiroshima – हिरोशिमा Ka Question Answer

पाठ 7 : हिरोशिमा
लेखक सच्चीदानंद हीरानंद
जन्म 7 मार्च 1911 में कसेया कुशीनगर
मुत्यु 4 अप्रैल 1987 में

1. कविता के प्रथम अनुच्छेद में निकलने वाला सूरज क्या है वह कैसे निकलता है ?

उत्तर –  कविता के प्रथम अनुच्छेद में निकलने वाला सूरज मानव निर्मित विनाशकारी परमाणु बम है ! जब इसे कहीं गिराया जाता है ! तो इसमें से  विनाशकारी किरणे निकलती है ! और जीव जंतु तथा पेड़ पौधों को जलाकर राख बना देती है |

2. छायाएँ दिशाहीन सब ओर क्यों पड़ती है’ स्पष्ट करें ?

उत्तर –  छायाएँ दिशाहीन सब ओर इसलिए पड़ती है ! क्योकि कि यह कोई सूरज नहीं उगता था ! सूरज के उगने पर जब प्रकाश फैलता है ! तो वह छायाएँ सूरज की विपरीत दिशा में छाया बनती है ! लेकिन यह प्रकाश मानव निर्मित बम गिराया गया था ! गिराने के बाद विस्फोट हुआ ! और सारा शहर प्रकाश में डूब गया ! जिसके कारण छाया नहीं बन पाई |

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Facebook Group Join Now

हिरोशिमा कविता के प्रश्न उत्तर

3. प्रज्वलित छन की दोपहरी से कवि का आशय क्या है ?

उत्तर –  अमेरिका द्वारा हिरोशिमा पर दोपहर में परमाणु बम गिराया गया था ! कुछ क्षण में उदय होने वाला सूरज का प्रकाश इतिहास बना कर रख दिया ! उस समय हिरोशिमा वासी इस दुख को झेलने के लिए अपना सर्वस्व समर्पित कर दिए ! लेकिन आने वाली नई पीढ़ी भी धड़कते हुए आग का शिकार बन कर रह गई थी |

4. मनुष्य की छायाएँ कहां और क्यों पड़ती है ?

उत्तर –  मनुष्य की छाया हिरोशिमा पर गिराया गया परमाणु बम के कारण पड़ी हुई है ! मानव निर्मित बम ने मानव को ही तबाही के घर में ढकेल दिया ! उस समय जब हिरोशिमा पर परमाणु बम गिराया गया ! तब उसके तीव्र गर्मी के कारण मानव का शरीर मोम के समान गल गया |

Hiroshima Notes In Hindi Bihar Board

5. हिरोशिमा में मनुष्य की साखी के रूप में क्या है ?

उत्तर –  हिरोशिमा में मनुष्य की साखी के रूप में पत्थर पर लिखी हुई मानव की जली हुई छाया है ! जो अमेरिका ने परमाणु बम गिरा के ऐसी स्थिति उत्पन्न कर दी है ! बरसों बरस बीत जाने के बाद भी आज हिरोशिमा वासी त्रासदी का दुख झेलने के लिए तत्पर है ! जोकि विदेशी साख के रूप में उपस्थित रहने वाला काला दृश्य आज भी सिहरन पैदा कर देता है |

6. व्याख्या करें
क. एक दिन साहस सूरज निकला ?

उत्तर –  प्रस्तुत पंक्ति हमारी पाठ्य पुस्तक हिंदी पाठ्य के काव्यखंड में हिरोशिमा शीर्षक से लिया गया है ! जिसके लेखक सच्चिदानंद जी है ! वह इस पंक्ति के माध्यम से यह बताना चाहते हैं ! कि जब अमेरिका ने 1945 में हिरोशिमा पर परमाणु गिराया तो पूरा शहर में त्राहि-त्राहि मच गया ! लोग गर्मी और तेज प्रकाश से मोम की तरह पिघल गए ! तथा धुप की तरह आग चारो तरफ फ़ैल गई ! और चारो तरफ विनाश ही विनाश हो गया |

ख. काल-सूर्य के रथ के पहियों के ज्यों अरे टूट कर ! बिखर गये हों ! दसों दिशा में ?

उत्तर –  प्रस्तुत पंक्ति हमारे पाठ्य पुस्तक हिंदी पाठ्य के काव्यखंड में हिरोशिमा शीर्षक से लिया गया है ! जिसके लेखक सच्चिदानंद जी है ! लेखक इस पंक्ति के माध्यम से यह बताना चाहते हैं ! कि इस नगर के मध्य में रितु रूपी सूर्य का टूटा हुआ भाग था ! बम के फटते ही विनाश का पदार्थ दसो दिशा में मौत बन कर नाचने लगा |

Ncert 10th class hindi hiroshima question answer

ग. मानव का रचा हुआ सूर्य मानव को ही भाव बनाकर सोख गया ?

उत्तर –  प्रस्तुत पंक्ति हमारी पाठ्य पुस्तक हिंदी पाठ्य के काव्यखंड के हिरोशिमा शीर्षक से लिया गया है ! जिसके लेखक सच्चिदानंद जी है ! लेखक इस पंक्ति के माध्यम से यह बताना चाहते हैं ! कि मानव जीन बमों को अपना आदर्श मानता था ! वह सूर्य का प्रकाश मानव का विनाश बनकर मानव को ही मोम की तरह पिघला दिया |

7. आज के युग में इस कविता की प्रासंगिकता स्पष्ट कीजिए ?

उत्तर –  प्रस्तुत कविता हिरोशिमा आज भी इतिहास में पूर्ण रूप से सम्मिलित है ! क्योंकि आज भी सारा विश्व मानवीय सस्त्रो के निर्माण में जुटा हुआ है ! आज भी सारा विश्व नए – नए विनाशकारी शास्त्रों का निर्माण तेजी से कर रहा है ! आगे इस पर मानव आज भी रुकावट नहीं डालेगा ! तो इन सस्त्रो से सदा के लिए मनुष्य का नामोनिशान समाप्त हो जाएगा |

Class 10 Hindi Objective Notes – Exam 2024
1.श्रम विभाजन और जाति प्रथा
2.विष के दांत
3.भारत से हम क्या सीखें
4.नाखून क्यों बढ़ते हैं
5.नागरी लिपि
6.बहादुर
7.परंपरा का मूल्यांकन
8.जित-जित मैं निरखत हूँ
9.आविन्यो
10.मछली
11.नौबतखाने में इबादत
12.शिक्षा और संस्कृति
Rate this post

Leave a Comment