dhvaniya tarah tarah ki | Bseb Class 8th Science ध्वनियाँ तरह – तरह की

dhvaniya tarah tarah ki notes, Bihar Board Class 8 Science ध्वनियाँ तरह – तरह की, Class 8 Science dhavniya tarah tarah ki MCQ, dhvaniya tarah tarah ki question answer

Bihar Board Class 8 Science Chapter 18 dhvaniya tarah tarah ki – ध्वनिया तरह – तरह की 

पाठ – 18 ध्वनियाँ तरह – तरह की

1. सही विकल्प चुनिए –

क. ध्वनी एक स्थान से दुसरे स्थान तक जाती है –
i. टस माध्यम तथा निर्वात
ii. द्रव माध्यम तथा गैस माध्यम
iii. गैस माध्यम तथा द्रव माध्यम
iv. ठोस , द्रव तथा गैस माध्यम तीनो में से कोई या तीनो
उत्तर – ठोस , द्रव तथा गैस माध्यम तीनो में से कोई या तीनो

ख. अश्व्य ध्वनी कहलाते है –
i. 20 Hz से कम आवृति
ii. 20000 Hz से अधिक आवृति
iii. 20 Hz से 20000 Hz के बिच की आवृति
उत्तर – 20 Hz से कम आवृति

Movies & Update WhatsApp Join Now

Study Notes & Pdf WhatsApp Join Now

class 8th science dawaniya tarah tarah kee notes in hindi

ग. किसी कंपित वस्तु का अपनी स्थिति से दोनों ओर अधिकतम दुरी तक का विस्थापन कहलाता है –
i. आवृति
ii. आयाम
iii. तारत्व
iv. आवर्त्तकाल
उत्तर – आयाम

Bseb Class 8th Science ध्वनियाँ तरह – तरह की

2. उचित शब्दों द्वारा रिक्त स्थानों की पूर्ति कीजिये –

क. ध्वनी किसी वस्तु के ___________ द्वारा उत्पन्न होती है | ( कंपन )

ख. प्रति सकेंड होने वाले दोलनो की संख्या को ________ कहते है | ( आवृति )

ग.कम्पित वस्तु एक निश्चित समय अंतराल में अपना एक दोलन पूरा करता है , जिसे __________ कहते है | ( आर्वत काल )

घ.अवांछित ध्वनी को _________ कहते है, जिसे _________ करने का उपाय करना चाहिए | ( शोर , कम )

Bihar Board Class 8 Science ध्वनियाँ तरह-तरह की

3. निम्न वाध यंत्रो में उस भाग को पहचानकर लिखिए जो ध्वनी उत्पन्न करने के लिए कंपित होता है |

क. ढोलक : चमड़े की सतह
ख. झाल : किनारा
ग.एकतारा : तार
घ.बांसुरी : जिमी
ङ. सितार : तार

ध्वनियाँ तरह तरह की नोट्स 

4. आपके माता – पिता एक आवासीय मकान खरीदना चाहते है,, जिसमे आपको भी रहना है | एक माकन मुख्य सड़क के किनारे तथा दूसरा मकान सड़क से दूर एक बगीचे के पास है | जहाँ इसी सडक से एक रास्ता जाती है | आप किस मकान को खरीदने का सुझाव देंगे ? उत्तर की व्याख्या कीजिये |

उत्तर – हम अपने माता – पिता को दुसरे मकान जो बगीचे के पास है | उसे खरीदने का सुझाव देंगे | क्योकि मुख्य सडक हमेशा अवांछित ध्वनी सुनने को मिलती रहती है | इतना ही नहीं कुछ ध्वनी तो कभी – कभी इतनी तेज बजती है | की उसे बर्दास्त करना मुश्किल हो जाता है | जो हमारे दिनचर्या को काफी प्रभावित करता है | जिसका प्रभाव प्रत्यक्ष रूप से हमारे मस्तिष्क तथा कान पर पड़ता है | और अप्रत्यक्ष रूप से हमें अनिंद्रा , चिडचिडापन , बहरेपन आदि का शिकार बना देता है | दूसरी तरफ बगीचा होने के कारण स्वच्छ हवा तथा वायु प्रदूषण से बचे रहने में मददगार होगा | इतना ही नहीं बगीचा होने के कारण गर्मी से भी बचाव होगा | इस प्रकार बगीचा के पास वाला मकान खरीदना श्रेषटकार होगा |

dhavniya tarh tarh ki question answer

5. आपका मित्र मोबाइल से हमेशा संगीत सुनता रहता है | क्या वह सही कार्य कर रहा है ? व्याख्या कीजिये |

उत्तर – मेरा मित्र यदि हमेशा मोबाइल से संगीत सुनता रहता है | वह सही कार्य नहीं कर रहा है | क्योकि किसी भी यंत्र को आराम की जरूरत होती है | और लगातार काम करने से उसकी क्षमता घटती चली जाति है | हमलोगों का कान भी दिमाग भी यंत्र है | अवांछित ध्वनी से तथा लगातार ध्वनी सुनने से तथा मोबाइल फोन से रेडियो तंरगों भी आते – जाते रहते है | परिणाम स्वरूप हमारे शरीरिक यंत्र पर बुरा प्रभाव पड़ेगा |

dhwaniya tarh tarh ki notes

6. मानव कान का नामांकित चित्र बनाये तथा उनके कार्यो को लिखिए |

उत्तर – ध्वनी को हम जिस ज्ञानेन्द्रिय द्वारा सुनते है | उसे कान कहते है | जिसके मुख्यत: तीन भाग होते है | बाहरी भाग , मध्य भाग तथा आंतरिक भाग | कान का बाहरी भाग जो की भांति होता है | उसे कर्ण प्लवव कहते है | यह कपित हवा को ग्रहण करता है | कपित ध्वनी नालिका के द्वारा पतली झिल्ली से जा टकराती है | तब कर्ण पहः भी कपित होने लगता है | यह कंपन भी तीन हड्डियों द्वारा और कई गुना बढ़ा दिए जाते है | ये बढे हुए कंपन मध्य भाग से आंतरिक भाग में स्थानांतरिक होकर विधुतीय संकेत में बदल जाते है | जिसे श्रवण – तंतु द्वारा मस्तिष्क इसे ध्वनी के रूप में ग्रहण करता है | इस प्रकार कान के विभिन्न अंगो के संचालन के माध्यम से हम ध्वनी सुन पाते है |

dhawaniya tarah tarah kee class 8th science

Class 8th Science Subjective & Objective Notes
पाठ – 1दहन और ज्वाला : चीजों का जलना
पाठ – 2तड़ित ओर भूकम्प : प्रकुति के दो भयानक रूप
पाठ – 3फसल : उत्पादन एवं प्रबंधन
पाठ – 4कपड़े तरह-तरह के : रेशे तरह-तरह के
पाठ – 5बल से ज़ोर आजमाइश
पाठ – 6घर्षण के कारण
पाठ – 7सूक्ष्मजीवों का संसार : सूक्ष्मदर्शी द्वारा आँखों देखा
पाठ – 8दाब और बल का आपसी सम्बन्ध
पाठ – 9इंधन : हमारी जरुरत
पाठ – 10विद्युत धारा के रासायनिक प्रभाव
पाठ – 11प्रकाश का खेल
पाठ – 12पौधों और जन्तुओं का संरक्षण : जैव विविधता
पाठ – 13तारे और सूर्य का परिवार
पाठ – 14कोशिकाएँ : हर जीव की आधारभूत संरचना
पाठ – 15जन्तुओं में प्रजनन
पाठ – 16धातु एवं अधातु
पाठ – 17किशोरावस्था की ओर
पाठ – 18ध्वनियाँ तरह-तरह की

Leave a Comment

error: Content is protected !!