Poudho me poshan notes | Bseb Class 7 Science पौधो में पोषण

poudho me poshan notes, Bseb Class 7 Science पौधो में पोषण , पौधों में पोषण class 7 question answer, पौधों में पोषण class 7 lesson plan, पौधों में पोषण class 7 pdf, पौधों में पोषण mcq, पौधों में पोषण class 10, Bihar Board Class 7 Science पौधों में पोषण, bihar board class 7 science poudho me poshan

Bihar Board Class 7th Science Chapter 6 poudho me poshan – पौधो में पोषण

Chapter – 6 पौधो में पोषण

1. सही उत्तर पर सही का चिन्ह लगाइए :

क. हरे पौधे जो अपना भोजन स्वयं बनाते है’’ कहलाते है ?
उत्तर – स्वपोषी

ख. अमरवेल उदाहरण है ?
उत्तर – परजीवी

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Facebook Group Join Now

ग. पौधो का रसोईघर है ?
उत्तर – पत्ती

घ. किटमक्षी पौधा है ?
उत्तर – घटपर्णी

2. निम्न कथनों में सत्य | असत्य कथनों का चयन कीजिये :

. प्रकाश संश्लेष्ण में सौर उर्जा का रासायनिक उर्जा में रूपांतरण होता है ( सत्य )

. जड़े कार्बन डाईआक्साइड को ग्रहण करने में मदद करती है ( असत्य )

. कार्बोहाइड्रेट और आँक्सीजन प्रकाश संश्लेष्ण के उत्पाद है ( सत्य )

. सभी जिव अपने पोषण के लिए हरे पौधो पर निर्भर रहते है ( सत्य )

Bseb Class 7th Science Paudho Me Poshan Notes In Hindi

3. सही मिलान करे :

. नाइट्रोजन – जीवाणु

. रंघ्र – पत्ती

. क्लोरोफिल – कार्बन डाईआक्साइड

. मशरूम – मृतजीवी

. जंतु – विषमपोषी

4. निम्नलिखित कथनों के लिए एक शब्द बताइए :

. पत्तियों में पाया जाने वाला हरा वर्णक ( क्लोरोफिल )

. जो अपने पोषण के लिए दुसरे पौधो एवं जीवो पर निर्भर करते है ( परजीवी )

. ऐसा संबंध जिनसे दो जिव आपस में एक दुसरे से सहयोग करते है ( सहजीवी )

Bihar Board Class 7 Science पौधो में पोषण नोट्स 

5. जीवो को पोषण की आवश्यकता क्यों होती है ?

उत्तर – जीवो को जैविक क्रियाओं की पूर्ति करने के लिए पोषण की आवश्यकता होती है | पोषण द्वारा ऊर्जा प्राप्त कर वे शरीर की वृद्धि करते है | कोशिकाओं एवं उतकों के टूट – फुट की मरम्मत करने के लिए भी पोषण की आवश्यकता होती है |

6. हरे पौधो में खाध संश्लेषण क्रियाओं का वर्णन कीजिये :

उत्तर – हरे पौधे बाहर से भोजन के कच्चे पदार्थो का शोषण करते है | पानी तथा अकार्बनिक लवण भूमि से और कार्बन डाईआक्साइड हवा से प्राप्त करते है | पर्णहरित तथा सूर्य के प्रकाश की सहायता से मुख्यतः पत्ती में कार्बनिक खाध पदार्थ तैयार करते है | हरे पौधो में इसी प्रकार से खाध का संश्लेष्ण होता है |

7. कैसे प्रदर्शित करेंगे की प्रकाश संश्लेषण के लिए सूर्य का प्रकाश अनिवार्य है ?

उत्तर – प्रकाश संश्लेष्ण के लिए क्लोरोफिल सूर्य का प्रकाश कार्बन डाईआक्साइड और जल की आवश्यकता होती है | हरी पत्ती वाले पौधे को यदि बंद कमरे में रख दिया जाए तो वहां पौधे को क्लोरोफिल आँक्सीजन तथा जल तो मिलेगा लेकिन सूर्य का प्रकाश नहीं मिलेगा | जिसके फ्लोस्वरूप वह पौधा कुछ दिनों में सुख जाएगा | जिससे सिद्ध होता है की प्रकाश संश्लेष्ण के लिए अन्य पदार्थ के साथ ही सूर्य का प्रकाश भी मिलना चाहिए यह अनिवार्य है |

8. परिभाषित करे :

क. प्रकाश संश्लेषण :- क्लोरोफिल , आँक्सीजन तथा जल का उपयोग कर सूर्य के प्रकाश की उपस्थिति में पौधे अपना भोजन बनाते है | इसी प्रक्रम को प्रकाश संश्लेष्ण कहते है |

ख. सहजीवी सम्बन्ध :- कभी – कभी दो जिव साथ –साथ रहते है | वे आपस में आवास के साथ ही भोजन भी बाटते है | लाइक्रें में शैवाल और कवक के बिच संबंध ऐसा ही संबंध है | ये एक दुसरे को लाभ पहुंचाते है | इस प्रकार के संबंध को सहजीवी संबंध कहते है |

ग. मृतजीवी :- कुकुरमुत्ता , गोबर छत्ता जो कवक यह फंजाई कहलाते है | इनमे ण क्लोरोफिल होता है | और न भोजन बनाने की कोई सुव्यवस्थित प्रणाली होती है | ये मृत या सड़ी – गली वस्तुओ में एक विशेष प्रक्रिया द्वारा अपना भोजन प्राप्त करते है | इन्हें ही मृतजीवी कहा जाता है |

घ. परजीवी :- अमरबेल जैसे पौधे जो अन्य पौधो से अपना भोजन प्राप्त करते है | परजीवी कहलाते है | इससे केवल अमरबेल को ही लाभ होता है | और जिस पौधे से परजीवी भोजन परजीवी प्राप्त करते है | उन्हें हानि होती है |

9. मिट्टी में पोषक तत्वों की पुनः पूर्ति कैसे होती है ?

उत्तर – खेतो में बोये गए पौधे मिट्टी से खनिज लवण और पोषक तत्वों का अवशोषण करते है | जैसे – जैसे ये वृद्धि करते है | वैसे – वैसे उनको उन तत्वों की मात्रा घटती जाति है | इन पोषक तत्वों से खेतो में जिस तत्व की कमी होता है | उसी का उर्वरक दिया जाता है | इस प्रकार मिट्टी में पोषक तत्वों की पुनः पूर्ति हो जाती है |

Leave a Comment

error: Content is protected !!