Haar Ki Jeet Notes | Bseb Class 6 Hindi (Kislay) हार की जीत

Haar ki jeet class 6 question answer, Haar Ki Jeet notes in hindi, हार की जीत कहानी का सारांश Bihar Board Class 6 Hindi हार की जीत, हार की जीत कहानी के प्रश्न उत्तर class 6, हार की जीत कहानी pdf, हार की जीत कहानी के प्रश्न उत्तर class 6 bihar board, kislay class 6, Bihar Board Class 6 Hindi Solutions Chapter 5 हार की जीत

Bihar Board Class 6th Hindi Haar Ki Jeet – हार की जीत Question Answer

पाठ – 5 : हार की जीत

1. बाबा भारती कौन थे ?

उत्तर – बाबा भारती एक भारतीय संत थे।

2. बाबा भारती अपने घोड़े सुलतान से किस प्रकार स्नेह करते थे ?

उत्तर – बाबा भारती अपने घोड़े सुलतान से उसी प्रकार स्नेह करते थे ! जैसे कोई माँ अपने बच्चो से स्नेह करती है ! और किसान अपने खेतो से स्नेह करता है ! तथा जैसे गुरु अपने शिष्य से स्नेह करते है ! ठीक उसी प्रकार बाबा भारती भी अपने घोड़े सुलतान से स्नेह करते थे। Ganapath

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Facebook Group Join Now

3. बाबा भारती के घोड़े को देखने के लिए खड्ग सिंह क्यों अधीर हो उठा ! घोड़ा देखने के बाद खड्ग सिंह के दिमाग में क्या उथल पुथल होने लगी ?

उत्तर – बाबा भारती के घोड़े को देखने के लिए खड्ग सिंह इसलिए अधिक अधीर हो गए ! क्योकि बाबा भारती के घोड़े की कीर्ति लोगो के मुह से सुनकर खड्ग सिंह आश्चर्यचकित हो गए ! तथा घोड़े को देखने के लिए व्याकुल हो गए ! लेकिन बाबा भारती के घोड़े को देखने के बाद खड्ग सिंह के दिमांग में उथल – पुथल होना लगा ! की वह बाबा भारती के घोड़े को कैसे प्राप्त करे।

हार की जीत कहानी के प्रश्न उत्तर class 6 bihar board

4. खड्ग सिंह ने बाबा भारती के घोड़े को पाने के लिए किस प्रकार का रूप बदला ?

उत्तर – खड्ग सिंह ने बाबा भारती के घोड़े को पाने के लिए अपाहिज का रूप ले लिया ! जिससे बाबा भारती खड्ग सिंह को आपना घोडा दे देंगे। इसलिए खड्ग सिंह ने आपना रूप बदला था।

5. पाठ के किन वाक्यों से पता चलता हैं ! कि बाबा भारती को अपने घोड़े पर गर्व था ?

उत्तर – बाबा भारती अपने घोड़े के बड़ाई में कहते थे ! की बड़ा विचित्र जानवर है ! देखोगे तो प्रसन्न हो जाओगे !  उसकी चाल तुम्हारा मन मोह लेगी ! पाठ के इसी वाक्यों से पता चलता है ! कि बाबा भारती को अपने घोड़े पर गर्व था ! तथा वह अपने घोड़े को अपने बच्चे के समान स्नेह करते थे।

6. सही वाक्यों के सामने सही एवं गलत वाक्यों के सामने गलतका निशान लगाइए

. बाबा भारती का घोड़ा कमजोर एवं दुर्बल था। (गलत)
.  घोड़ा का नाम सुलतान था। (सही)
.  खड्ग सिंह को बाबा भारती का घोड़ा पसंद था। (सही)
.  बाबा भारती ने सुलतान से बिछुड़ने पर प्रसन्नता व्यक्त की। (गलत)
.  खड्ग सिंह ने चुपके से घोड़ा को अस्तबल में बाँध दिया। (सही)

7. लोगों को यदि इस घटना का पता लग गया ! तो वे किसी अपाहिज पर विश्वास न करेंगे। बाबा भारती के इस वक्तव्य का क्या अभिप्राय है ?

उत्तर – बाबा भारती खड्ग सिंह से बात करते हुए कहते है ! की लोगों को यदि इस घटना का पता लग गया ! तो वे किसी अपाहिज पर विश्वास न करेंगे। बाबा भारती ऐसा इसलिए कहते कहते है ! क्योकि खड्ग सिंह ने बाबा भारती के घोड़े को अपाहिज बनाकर चुपके ले गया था ! जिसके चलते बाबा भारती खड्ग सिंह को पहचान लेते है ! और खड्ग सिंह से कहते है ! की ऐसा मत करो नहीं तो लोगो तुम्हारे एक गलती के चलते लोग किसी अपाहिज को मदद करने से दूर भागेंगे।

Haar ki jeet notes in hindi

8. खड्ग सिंह ने चुपके से रात में सुलतान को वापस अस्तबल में बाँध दिया ! ऐसा उसने क्यों किया ?

उत्तर – खड्ग सिंह ऐसा इसलिए किया क्योकि बाबा भारती के बात को सुनकर उसका हृदय परिवर्तन हो गया ! और अगर इस बात का पता लोगो और समाज को लग गया ! तो कोई भी व्यक्ति लाचार, गरीब और अपाहिज पर विश्वास नहीं करेगा ! जिसके कारण खड्ग सिंह को अपनी गलती का अहसास हुआ ! और खड्ग सिंह ने बाबा के घोड़े को लौटाने के लिए चुपके से घोड़े को अस्तबल में ले जाकर बाँध दिया।

9. बाबा भारती के किस व्यवहार से खड्ग सिंह के सोच में परिवर्तन हुआ ?

उत्तर – बाबा भारती ने घोड़ा के विषय में बात नहीं करते हुए ! सिर्फ खड्ग सिंह से कहा कहते है ! की मैं प्रार्थना करता हूँ ! कि यह घटना किसी से मत बताना ! यदि लोगों को इस घटना के बारे में मालूम हो जायेगा ! तो गरीब, लाचार पर विश्वास करना छोड़ दंगे ! यह कहकर सुलतान को बिना देखे वापस चल दिए ! बाबा के इस व्यवहार से खड्ग सिंह के सोच में परिवर्तन हुआ ! और खड्ग सिंह ने बाबा भारती के घोड़े को चुपके से ले जाकर अस्तबल में बाँध दिया।

10. आपकी प्रिय वस्तु कोई छिनने का प्रयास करे ! तो आप क्या करेंगे ?

उत्तर – अगर हमारी प्रिय वस्तु कोई छिनने का प्रयास करेगा ! तो मै उसका विरोध करूंगा ! तथा किसी भी हालत में अपनी प्रिय वस्तु को किसी को नहीं दूंगा।

Ncert 6th class hindi haar ki jeet question answer

11. अगर आपको बाबा भारती से घोड़ा लेना होता तो आप क्या करते ?

उत्तर – अगर हमको बाबा भारती से उनका घोड़ा कुछ समय के लिए लेना होता ! तो हम सबसे पहले उनसे आग्रह करते ! और उसका उचित दाम देकर उनके घोड़ा को उनसे खरीदने की कोशिश करते।

12. कहानी का कोई दूसरा शीर्षक क्या हो सकता है ?

उत्तर – अगर कहानी को गौर पूर्वक सूना जाए तो यह कहानी बाबा भारती के घोड़ा के इर्द – गिर्ध घूमता है ! इसलिए मेरे हिसाब से कहानी का दूसरा शीर्षक सुलतान हो सकता है ! जो की बाबा भारती के घोड़ा का नाम है।

इसे भी पढ़े ⇓

Leave a Comment

error: Content is protected !!