Dahi Wali Mangamma Notes । Bseb Class 10 Hindi दही वाली मंगम्मा  

Dahi Wali Mangamma Question Answer, दही वाली मंगम्मा Subjective Question Answer 2023, दही वाली मंगम्मा bihar board class 10, Bihar Board Class 10 Hindi वर्णिका Chapter 1 दही वाली मंगम्मा, Bihar Board Class 10 Hindi वर्णिका Lesson 1 दही वाली मंगम्मा Solution, bihar board class 10 hindi | दही वाली मंगम्मा, Bihar Board Class 10 Hindi दही वाली मंगम्मा, Dahi Wali Mangamma – हिंदी कक्षा 10 दही वाली मंगम्मा

Bihar Board Class 10th Hindi वर्णिका Chapter 1 Dahi Wali Mangamma – दही वाली मंगम्मा Question Answer

पाठ – 1 : दही वाली मंगम्मा
लेखक  –  श्री निवास
जन्म  –  6 जून 1891 में 

1. मंगम्मा का अपनी बहू के साथ किस बात को लेकर विवाद था ?

उत्तर मंगम्मा का अपनी बहू के साथ स्वतंत्रता को लेकर विवाद था ! यह सत्य है ! कि संसार में सास और बहू में स्वतंत्रता की होड़ लगी रहती है ! माँ बेटे पर अपना अधिकार जमाना चाहती है ! तो मंगम्मा की बहू अपने पति पर अपना अधिकार जमाना चाहती है ! मंगम्मा की बहू ने किसी बात को लेकर वह अपने बेटे को खूब पिटती है ! जिसके चलते मंगम्मा अपने पोते की पिटाई से दुखी होकर वह अपनी बहू को भला बुरा कह दी ! बेटे पर अधिकार को लेकर मांगमा और उसकी बहु में विवाद था |

2. रंगप्पा कौन था और वह मंगम्मा से क्या चाहता था ?

उत्तर  रंगप्पा शौकीन तबियत रखने वाला एक जुवारी था ! वह मंगम्मा से कर्ज लेना चाहता था ! वह भलीभांति जानता था ! की मंगम्मा अपने बहुत बेटे से अलग रहती है ! और उसके पास पैसे रहते है ! माँ बेटे में कलह के कारण वह लाभ उठाना चाहता था |

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Facebook Group Join Now

दही वाली मंगम्मा पाठ के प्रश्न उत्तर

3. बहू ने सास को मनाने के लिए कौन-सा तरीका अपनाया ?

उत्तर  बहू ने अपने सास को मनाने के लिए अपने बेटे को ढाल बनाकर पैसे लेने की तरकीब सोचने लगी ! वह जानती थी ! कि उसकी सास अपने पोते से बहुत प्यार करती है ! उसने अपने बेटे को दादी के पास ही रहने के लिए भेज दिया ! ताकि दादी पोते के प्यार में घुल मिलकर एक साथ हो जाए |

4. मंगम्मा कहानी का कथावाचक कौन है ! उसका परिचय दीजिए ?

उत्तर  इस कहानी का कथावाचक लेखक की मां है ! कहानी का कथावस्तु लेखक की मां द्वारा बताया गया है ! मंगम्मा जब दही बेचने के लिए लेखक के घर आती है ! तब लेखक की मां से घनिष्ठ हो जाता है ! जब मंगम्मा ने अपने घर की सारी कथा सुनाती है ! तब लेखक की मां मंगम्मा को धीरज बांधते हुए समझाती है ! कि आदमी को परिस्थिति से नहीं घबराना चाहिए ! सब कुछ पहले जैसा ठीक हो जाएगा ! इस तरह लेखक की मां समझाने की कोशिश करती है ! जिससे पता चलता है ! कि लेखक की मां बहुत अच्छे स्वभाव की थी |

dahi wali mangamma question answer in hindi

5. मंगम्मा का चरित्र-चित्रण कीजिए ?

उत्तर मंगामा इस कहानी के प्रमुख पात्र है ! कहानी की कथावस्तु इसके इर्द – गिरध घूमती रहती है ! पति के मरने के बाद मंगम्मा कभी या नहीं सोचती थी ! कि उसका बेटा पत्नी के कहने पर उसको छोड़ देगा ! मंगम्मा दही बेचकर अपनी जीवन यापन करती थी ! वह एक भोली भाली भारतीय नारी थी ! उसको अपने पोते से बहुत प्रेम था ! वह एक दिन के लिए भी अपने पोते से अलग नहीं रहना चाहती है ! जिससे यह स्पष्ट होता है ! की उसके अंदर मातृत्व और प्रेम की भावना थी ! मंगम्मा सम्पूर्ण भारतीय नारी की नेतृत्व करती दिखाई पड़ती है ! उसके अंदर प्रेम स्वभाव तथा मामता भरा पड़ा हुआ है |

S.NClass 10th Hindi Subjective ( गद्य खण्ड )
1.श्रम विभाजन और जाति प्रथा (निबंध)
2.विष के दाँत (कहानी)
3.भारत से हम क्या सीखें (भाषण)
4.नाखून क्यों बढ़ते हैं (ललित निबंध)
5.नागरी लिपि (निबंध)
6.बहादुर (कहानी)
7.परंपरा का मूल्यांकन (निबंध)
8.जित-जित मैं निरखत हूँ (साक्षात्कार)
9.आविन्यों (ललित रचना)
10.मछली (कहानी)
11.नौबतखाने में इबादत (व्यक्ति-चित्र)
12.शिक्षा और संस्कृति (शिक्षा-शास्त्र)

Leave a Comment

error: Content is protected !!