Sanskrit sahitye lekhika | Class 10 Sanskrit संस्कृतसाहित्ये लेखिकाः

sanskrit sahitye lekhika notes, Bseb Class 10 Sanskrit संस्कृतसाहित्ये लेखिकाः, Class 10th संस्कृत पाठ-4. संस्कृतसाहित्ये लेखिकाः Subjective, class 10 sanskrit chapter 4 sanskrit साहित्य लेखिका, sanskrit sahitya lekhika objective question answer, Class 10 sanskrit संस्कृतसाहित्ये लेखिकाः, bihar board class 10th sanskrit sahitye lekhika question answer

Bihar Board Class 10th Sanskrit Chapter 4 sanskrit sahitye lekhika – संस्कृतसाहित्ये लेखिकाः

Chapter – 4 संस्कृतसाहित्ये लेखिकाः

1. समाजरूपी रथ पुरुष और नारी दोनों के सहयोग से चलती है |
2. संस्कृत साहित्य को प्राचीन काल में समृद्धि बनाने में पुरुष और स्त्रियों दोना का योगदान है |
3. वैदिक काल के आरम्भ में शात्रो और काव्यो की रचना करना और उनका संरक्षण करना पुरुष का कार्य था |
4. वैदिक युग में मंत्रो की दर्शिका केवल ऋषि ही नही बल्कि ऋषिका भी थी |
5. ऋग्वेद में 24 एवं अर्थर्वेद में 5 महिलाओ का वर्णन है |
6. बृहदारण्यकोपनिषद में याज्ञवल्क्य ने अपनी पत्नी मैत्रयी को आत्मा तत्व की शिक्षा दी थी |
7. जनक की सभा में शास्त्रों में कुशल गार्गी थी |
8. महाभारत में सिल्भा का वर्णन है |
9. लौकिक संस्कृत में 40 महिलाओं का वर्णन है |
10. 40 महिलाओं में प्रथम कल्पा विज्यांका है |
11. विज्यांका को सर्वशुक्ला सरसवती भी कहा जाता है |
12. च्न्द्रादितय की रानी – विजयभट्टरिकेव थी |
13. विजय नगर के नरेंद्र ने संस्कृत भाषा की रक्षा करने के लिए काफी प्रयास किये |
14. 14 वीं सदी में कम्प्नराय की रानी गंगा देवी ने मधुरा विजयम नामक महाकाव्य की रचना की |
15. अच्युतराय की रानी तिरुम्लाम्बा थी |
16. च्म्पुकाव्य के रचनाकार तिरुम्लाम्बा थी |
17. आधुनिक संस्कृति लेखिकाओ में पंडिता क्ष्माराव सबसे प्रसिद्ध है |
18. वर्तमान समय की संस्कृत लेखिका मिथिलेश कुमारी है |
19. शंकरचरितम के रचनाकार पंडिता क्षमाराव है |

Bseb Class 10 Sanskrit संस्कृतसाहित्ये लेखिकाः Subjective

पाठ के साथ sanskrit sahity lekhika notes in hinid

1. आधुनिक काल और वर्तमान काल की सबसे प्रसिद्ध लेखिका कौन है ?

उत्तर – आधुनिक काल की लेखिका पंडिता क्षमाराव एवं वर्तमान काल की मिथिलेश कुमारी सबसे प्रसिद्ध लेखिका है |

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Facebook Group Join Now

2. संस्कृत साहित्य लेखिका पाठ का सारांश लिखे ?

उत्तर – इस पाठ में संस्कृत साहित्य में महिलाओं का योगदान को बताया गया है | इस पाठ में गार्गी , सुलभा विजयभट्टरिकेव , पंडिता क्षमाराव एवं मिथिलेश कुमारी आदि विदुषी महिलाओं के बारे में वर्णन ई | इस पाठ में बताया गया है | की वैदिक युग से लेकर वर्तमान काल तक में संस्कृत के साहित्य में महिलाओं का क्या योगदान है |

3. याज्ञवल्क्य ने किसे और किस चीज की शिक्षा दी थी ?

उत्तर – याज्ञवल्क्य ने अपनी पत्नी को आत्मात्त्व की शिक्षा दी थी |

4. पंडिता क्षमाराव की कौन – कौन सी रचना है ?

उत्तर – पंडिता क्षमाराव की रचना निम्नलिखित है –
. शंकरचरितम
. सत्याग्रह गीता
. काव्यामुक्तावाली
. मिराल्हारी
. ग्राम ज्योति आदि

class 10 sanskrit chapter 4 sanskrit साहित्य लेखिका

5. विजयनगर राज्य में संस्कृत भाषा की क्या स्थिति थी, तीन वाक्यों ,में उत्तर दे ?

उत्तर – विजय नगर सम्राट संस्कृत भाषा के संरक्षण के लिए किए गए प्रयास सर्वविदित है,, उनके अनंत पुर में भी संस्कृत रचना में रानियों का योगदान प्रमुख था,, वैदिक युग से आधुनिक समय तक ऋषिकाएं , कवियित्री , लेखिकाएँ संस्कृत साहित्य के संवर्धन में अतुलनीय सहभागिता प्रदान करती है |

6. सर्व शुक्ला सरस्वती किसे कहा गया है,, और क्यों ?

उत्तर – सर्व शुक्ला सरस्वती विज्यांका को कहा गया है,, विज्यांका श्याम वर्ण की थी , किन्तु उसकी कृतियाँ ज्योतिमय थी, नील कमल की पंखुडियो की तरह विज्यांका अपनी रचना में अद्भुत लेखन कला की आभा बिखेरती है |

S.NClass 10th Sanskrit Subjective Notes
पाठ – 1मङ्गलम्
पाठ – 2पाटलिपुत्रवैभवम्
पाठ – 3अलसकथा
पाठ – 4संस्कृतसाहित्ये लेखिकाः
पाठ – 5भारतमहिमा
पाठ – 6भारतीयसंस्काराः
पाठ – 7नीतिश्लोकाः
पाठ – 8कर्मवीर कथाः
पाठ – 9स्वामी दयानन्दः
पाठ – 10मन्दाकिनीवर्णनम्
पाठ – 11व्याघ्रपथिक कथाः
पाठ – 12कर्णस्य दानवीरता
पाठ – 13विश्वशांतिः
पाठ – 14शास्त्रकाराः
Rate this post

Leave a Comment